उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊसत्ता-सियासत

राम भक्तों पर गोली चलवाने वाले चुनाव में चेहरा बदल कर आएंगे: सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 31 साल पहले अयोध्या में राम भक्तों पर बर्बर और निर्मम गोलीकांड हुआ था। सेकुलरिज्म के नाम पर समाज को छिन्न भिन्न करने वाले इस वारदात पर मौन थे या फिर उसे जायज ठहरा रहे थे। लेकिन अयोध्या की घटना इस बात के लिए प्रेरित करती रहेगी कि अगर हमारी नियत साफ है तो हमारी नीति को नियंता भी सफल बनाता है। उन्होंने कहा कि 1990 में मंदिर निर्माण की मांग पर गोली चलवाने वाले आज चेहरे बदल कर फिर आएंगे। नाम और रूप अलग-अलग होंगे पर वह लोग काम वही करेंगे। इन सबके प्रति आपको जागरूक करने के लिए आए हैं। उस त्रासदी को आपने सुना होगा लेकिन लाखों कारसेवकों ने उस दर्द को महसूस किया था।

सीएम योगी आदित्यनाथ शनिवार को योगीराज बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह में गोरखपुर, बस्ती और आजमगढ़ मण्डल के 12 जिलों के मण्डल अध्यक्ष एवं मण्डल प्रभारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और गोरखपुर क्षेत्र के चुनाव प्रभारी अरविंद मेनन एवं विवेक ठाकुर भी शामिल रहे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा आज दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है। यह उसकी नीति और नीयत का परिणाम है।

उन्होंने मण्डल प्रभारियों एवं मण्डल अध्यक्षों से कहा कि रास्ते भले अलग हो, मिशन सबका एक ही है कि कैसे हम सफल हों। सफलता के लिए हमें जानना होगा कि क्या करना है और क्या नहीं करना है। उन्होंने कहा कि केवल अपने लिए जीना कोई जीना नही होता बल्कि देश और समाज के लिए जीना, जीना होता है। उन्होंने कहा कि हम केवल जाति एवं धर्म की राजनीति करें तो कश्मीर से धारा 370 कभी खत्म नहीं हो पाता। 2017 और 2014 से पहले प्रदेश एवं देश में भाजपा सरकार नहीं थी। तब हम सीमित संख्या में थे लेकिन आज हम बहुमत में हैं। 17 के पहले यूपी में 47 विधायक थे। आज 304 भाजपा विधायक हैं। 17 से पहले यूपी में 10 एमएलसी थे आज 37 एमएलसी हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सम्मान का रास्ता संघर्ष से शुरू होता है। दुनिया आज यूपी के परिणाम के बारे में बोल रही है। 17 के पहले लोग यूपी के नाम से डरते थे पर आज सम्मान करते हैं। यूपी की पहचान बीजेपी ने दिलाई है। दीवाली में ढाई करोड़ बीजेपी के सदस्य संकल्प लें कि हम उस एक एक परिवार को ढूंढे जिसके पास अभाव है। बीजेपी के कार्यकर्ता वहां उनके घर जाकर दीपक जलाए, मिठाई दे और तोरण द्वार उसके घर लगाएं। उन्होंने कहा कि यूपी में 43 लाख परिवारों को पीएम और सीएम आवास मिला है। ऐसे लोगों के घरों में जाकर इस कार्यक्रम को करें। उनको भी लगना चाहिए कि हमारा भी दीवाली और दीपोत्सव है।

विपक्ष पर बोला हमला

कोरोना संक्रमण के दौर की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि पहली बार कोई प्रधानमंत्री वैक्सीन के सेंटर का दौरा कर रहा है। दूसरी ओर कोरोना संक्रमण के दौर में विपक्ष खुद को घरों में कैद रखा था। सपा की सरकार में अनुसूचित जाति- जनजाति के बच्चों की स्कॉलर की राशि रोक दी जाती थी। पहले सीएम अपने आवास को बनाता था। सिर्फ 4 जिलों में बिजली मिलती थी लेकिन अब लाखों को आवास मिलता है। पूरे सूबे को 24 घण्टे बिजली मिलती है। आज किसी के आवास पर कोई कब्जा करने की हिम्मत नहीं कर सकता है। यही परिवर्तन है। पहले राशन, दवा फ्री नहीं मिलता था आज मिल रहा है। उन्होंने कहा कि  13 नवम्बर को आजमगढ़ में 12 से 3 बजे के बीच में एक बड़ी रैली होगी। गृह मंत्री अमित शाह के हाथों आजमगढ़ विश्वविद्यालय का शिलान्यास होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button