देशबड़ी खबर

महाराष्ट्र: होटल-रेस्टोरेंट्स, दुकानों को लेकर CM उद्धव ठाकरे का बड़ा फैसला, अम्यूजमेंट पार्कों को भी खोलने की दी इजाजत

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण में कमी आने के बाद प्रतिबंधों में अब बहुत हद तक छूट  की घोषणा कर दी गई है. होटलों, रेस्टोरेंट्स और दुकानों की टाइमिंग बढ़ाने को हरी झंडी दे दी गई है. अम्यूजमेंट पार्क भी 22 अक्टूबर से शुरू करने की इजाजत दी गई है.  मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे  ने आज (18 अक्टूबर, सोमवार) कोरोना टास्क फोर्स के साथ एक अहम बैठक की. इस बैठक में राय-मशविरा करके सीएम ने यह फैसला किया है.

फिलहाल अम्यूजमेंट पार्क के बारे में यह फैसला किया गया है कि जो खुली जगहों में राइड्स होंगी वे शुरू हो जाएंगी. पानी में होने वाली राइड्स के बारे में बाद में फैसला किया जाएगा. कोरोना टास्क फोर्स के साथ हुई बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कर रहे थे. इस बैठक में छोटे बच्चों के डॉक्टरों का टास्कफोर्स भी मौजूद था.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रतिबंधों में छूट का ऐलान करते हुए यह कहा

कोरोना के अलावा डेंग्यू, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों का प्रकोप भी बढ़ गया है. इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने बैठक में निर्देश दिया कि इन बीमारियों के इलाज को लेकर अस्पतालों में पूरी तैयारियां रखी जाएं. मुख्यमंत्री ने कहा कि, ‘यह अच्छी बात है कि प्रतिबंधों में छूट दिए जाने के बावजूद कोरोना संक्रमण में कमी हो रही है. 22 अक्टूबर से सिनेमा हॉल्स, थिएटर्स शुरू किए जा रहे हैं. होटलों, रेस्टॉरेंट्स और दुकानों की टाइमिंग बढ़ाने की लगातार मांगें उठ रही हैं. इसलिए इस संदर्भ में भी गाइडलाइंस बनाने का निर्देश दे दिया गया है.’

बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर भी सीएम ने दिए निर्देश

बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर भी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग को अहम निर्देश दिए. सीएम ठाकरे ने केंद्र के संपर्क में बने रहने को कहा और इस बारे में जैसे ही निर्णय हो, बच्चों के वैक्सीनेशन की पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया.

तीसरी लहर की आशंका कायम, कोरोना के नियमों को लेकर सख्ती जारी रहे

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस मीटिंग में स्वास्थय विभाग को यह भी निर्देश दिया कि, ‘कोरोना की दूसरी लहर कम हुई है लेकिन तीसरी लहर की आशंका कायम है. इसलिए नियमित रूप से मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, बार-बार हाथ धोने जैसे कोरोना से जुड़े नियमों के पालन में ढिलाई नहीं आनी चाहिए. इस बात को लेकर लोगों में जागरुकता बढ़ाई जाती रहे. ‘

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button