देशबड़ी खबर

देश विरोधी गतिविधियों के खिलाफ कार्रवाई तेज, NIA ने केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु की 20 जगहों पर की छापेमारी

राष्ट्रीय जांच एजेंसी की विशेष टीम ने मंगलवार को केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु में कई जगहों पर छापेमारी की. ये छापेमारी एडक्कारा माओवादी मामले में की गई है. यह मामला देश विरोधी गतिविधियों के लिए प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन भाकपा (माओवादी) के सदस्यों की साजिश से जुड़ा है. जानकारी के मुताबिक एनआईए ने केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु की 20 जगहों पर छापेमारी की है. दरअसल सितंबर 2016 में नक्सलियों ने एक ट्रेनिंग कैंप आयोजित किया था हथियारों की ट्रेनिंग, ध्वजारोहण और सीपीआई के गठन दिवस पर क्लास दी गई थी. ये ट्रेनिंग कैंप नीलांबुर के जंगल के इलाके से तीन किलोमीटर दूर आयोजित किया गया था. एनआईए ने गृह मंत्रालय के आदेश के बाद केरल एसटीएफ से ये मामला 20 अगस्त को ले लिया था और आईपीसी की कई धाराओं के तहत एफआईआर रजिस्टर की थी. साल 2017 में19 नक्सली कैडर के खिलाफ पहले ये मामला केरल में मल्लपुरम के एडक्कारा पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया था. बाद में इसकी जांच आतंकवाद विरोधी दस्ते (ATS) को दे दी गई.

गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स जब्ती मामले में भी हुई छापेमारी

वहीं दूसरी ओर एनआईए ने गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर 3,000 किलोग्राम ड्रग्स की जब्ती मामले में भी दिल्ली एनसीआर में 5 जगहों पर छापेमारी की. एजेंसियों के अनुमान के मुताबिक, इस ड्रग्स की कीमत करीब 21,000 करोड़ रुपये है जो कि अब तक की सबसे बड़ी जब्ती है. डिलीवरी में एक नार्को-टेरर लिंक की जांच की जा रही है, क्योंकि ड्रग्स की इस खेप को अफगानिस्तान से बंदर अब्बास बंदरगाह के जरिये भारत भेजा गया था. दरअसल, 2,988.21 किलोग्राम हेरोइन के इस खेप को राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने गुजरात के कच्छ जिले में मुंद्रा बंदरगाह से 14 और 15 सितंबर को खुफिया जानकारी के आधार पर जब्त किया था. डीआरआई को खुफिया जानकारी मिली थी कि अफगानिस्तान से बंदर अब्बास बंदरगाह के जरिये दो कंटेनरों में हेरोइन को तस्करी करके भारत लाया जा रहा है. सुरक्षा और सीमा शुल्क अधिकारियों से बचने के लिए इन दो कंटेनरों में 1,999.58 किलोग्राम और 988.64 किलोग्राम हेरोइन पैक की गई थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button