देशबड़ी खबरराजनीति

सचिन पायलट के संपर्क में राहुल और प्रियंका, मनाने की कोशिशें तेज

जयपुर/नई दिल्ली। राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की बगावत के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक में प्रस्ताव पारित करके बागी गुट पर कार्रवाई का ऐलान किया गया। कांग्रेस विधायक दल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव पारित करते हुए पार्टी को कमजोर करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। प्रस्ताव में सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में जताया विश्वास। कांग्रेस विधायक दल ने पार्टी को कमजोर करने वाले कार्यों की निंदा की। प्रस्ताव में मांग की गई है कि इस तरह की कार्रवाई में शामिल पदाधिकारियों और विधायकों के खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए।

इससे पहले अशोक गहलोत ने अपने समर्थक विधायकों  को मीडिया के सामने पेश करते हुए यह संदेश दिया कि उनके पास बहुमत कायम है। दूसरी तरफ सचिन पायलट गुट ने 30 विधायकों के  समर्थन का ऐलान किया है। उधर, सूत्रों का कहना है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ खुलकर बगावत कर चुके उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को मनाने की कोशिशें की जा रही हैं और इसी क्रम में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता उनके संपर्क में हैं। पायलट ने रविवार को गहलोत के खिलाफ खुलकर मोर्चा खोल लिया था और दावा किया था कि उनके पास 30 से अधिक विधायकों का समर्थन है और अशोक गहलोत सरकार अल्पमत में आ चुकी है।

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने पायलट से बात की है और उनसे कहा है कि वे मुख्यमंत्री के खिलाफ बगावत नहीं करें। उन्हें उनकी चिंताओं को दूर करने का विश्वास भी दिलाया गया है। सूत्रों के अनुसार, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने पायलट से बात की है। इसके साथ ही अहमद पटेल, पी चिदंबरम और केसी वेणुगोपाल ने भी उनसे संपर्क किया है। कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत में सचिन पायलट ने जो भी मुद्दे रखे हैं, उनके निराकरण का विश्वास दिलाया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button