देशबड़ी खबर

मन की बात में बोले पीएम मोदी- 41 साल बाद भारत के बेटे- बेटियों ने भर दी हॉकी के अंदर जान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) के जरिए देशवासियों को संबोधित कर रहे हैं. यह इस कार्यक्रम का 80वां एपिसोड है. पीएम ने कार्यक्रम की शुरुआत में मेजर ध्यानचंद की जयंती पर उन्हें याद किया. उन्होंने कहा कि हम सबको पता है आज मेजर ध्यानचंद जी की जन्म जयंती है और हमारा देश उनकी स्मृति में इसे राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाता भी है.”

उन्होंने ओलंपिक में भारत के प्रदर्शन का भी जिक्र करते हुए कहा कि चार दशक बाद यानी करीब-करीब 41 साल के बाद, भारत के बेटे और बेटियों ने हॉकी के अन्दर फिर से एक बार जान भर दी है. सबसे पहले दुनिया में भारत की हॉकी का डंका बजाने का काम ध्यानचंद जी की हॉकी ने किया था. पीएम ने कहा कि मैं सोच रहा था कि शायद, इस समय मेजर ध्यानचंद जी की आत्मा जहां भी होगी, बहुत ही प्रसन्नता का अनुभव करती होगी. ” इसके बाद पीएम ने बाल ही में ओलंपिक में भारत के प्रदर्शन का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा जब खेल-कूद की बात होती है, तो स्वाभाविक है हमारे सामने पूरी युवा पीढ़ी नजर आती है और जब युवा पीढ़ी की तरफ गौर से देखते हैं कितना बड़ा बदलाव नजर आ रहा है.

युवा का मन बदल चुका है

पीएम ने कहा कि इस दौर नें युवा का मन बदल चुका है. आज का युवा मन बने बनाए रास्तों पर चलना नहीं चाहता है. वो नए रास्ते बनाना चाहता है. अनजान जगहों पर कदम रखना चाहते हैं. उन्होंने युवाओं की प्रशंसा करते हुए कहा आज के युवाओं की मंजिल भी नयी है, लक्ष्य भी नए है, राह भी नयी और चाह भी नयी है. उन्होंने कहा कि हमारी युवा पीढ़ी एक बार मन में ठान लेता हैं न युवा, जी-जान से जुट जाता है. दिन-रात मेहनत करता है और सफलता पाकर ही दम लेता है.

नौजवान बढ़-चढ़ करके आगे आए हैं

हम देखते हैं, अभी कुछ समय पहले ही, भारत ने अपने Space Sector को शुरू किया और देखते ही देखते युवा पीढ़ी ने उस मौके को पकड़ लिया. वहीं इस इसका लाभ उठाने के लिए कॉलेजों , यूनिवर्सिटी और पाइवेट सेक्टर में काम करने वाले नौजवान बढ़-चढ़ करके आगे आए हैं. पीएम ने स्टार्टअप कलचर का जिक्र करते हुए कहा कि हमारे आज के युवा का मन बदल चुका है. आज छोटे-छोटे शहरों में भी स्टार्टअप (Start-up culture) का विस्तार हो रहा है और मैं उसमें उज्जवल भविष्य के संकेत देख रहा हूँ.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button