उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

बीजेपी और निषाद पार्टी के गठबंधन का औपचारिक एलान, धर्मेंद्र प्रधान बोले- हर समाज का सहयोग मिलेगा

उत्तर प्रदेश में बीजेपी और निषाद पार्टी में बात बन गई है. धर्मेंद्र प्रधान ने आज संजय निषाद से मुलाकात की। इसके बाद दोनों पार्टियों ने साथ मिलकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि यूपी चुनाव के लिए बीजेपी और निषाद पार्टी का औपचारिक गठबंधन हो गया है। अपना दल भी बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्री और उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी द्वारा प्रभारी बनाए गए धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि 2022 का यूपी विधानसभा चुनाव काफी अहम है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जनता को भरोसा है। 2022 के चुनाव में बीजेपी सफल होगी। उन्होंने कहा कि पिछले 3 दिन से उत्तर प्रदेश में हूं। आज एक सुखद संयोग है। निषाद पार्टी के साथ बीजेपी का गठबंधन है। 2022 में हम मिलकर ताकत के साथ लड़ेंगे और इसकी घोषणा दोनों पार्टी के नेताओं ने किया है। अपना दल भी हमारे साथ जुड़ा हुआ है।

बीजेपी 2022 के चुनाव में हर समाज को गहराई से साथ लेने में सफल होगी- प्रधान

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि मेरा विश्वास है कि बीजेपी 2022 के चुनाव में हर समाज को गहराई से साथ लेने में सफल होगी। वहीं बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि पहले से ही संजय निषाद हम सब मिलकर चुनाव लड़ते हैं, एनडीए का हिस्सा है। 2022 में फिर से मिलकर पीएम मोदी और सीएम योगी के नेतृत्व में संजय निषाद के नेतृत्व में आगे बढ़ेंगे और मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

सीटों के बंटवारे का ऐलान नहीं

हालांकि धर्मेंद्र प्रधान ने सीट बंटवारे को लेकर कोई ऐलान नहीं किया। कहा जा रहा है कि सीटों को लेकर बातचीत भी लगभग तय हो चुकी है, पर इसका ऐलान केंद्रीय नेतृत्व के साथ मंथन के बाद किया जाएगा।

पूर्वांचल में निषाद पार्टी को मिल सकती हैं 3-4 सीटें

निषाद पार्टी के साथ गठबंधन के ऐलान के समय धर्मेंद्र प्रधान, यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद रहे। माना जा रहा है कि भाजपा पूर्वांचल में निषाद पार्टी को 3-4 सीटें दे सकती है। इसका ऐलान करीब एक महीने बाद किया जाएगा।

एमएलसी बनेंगे डॉ. संजय निषाद?

नामित एमएलसी के नामों पर भी सहमति बनी है। कहा जा रहा है कि डॉ. संजय निषाद को नामित एमएलसी बनाए जाने और मंत्रिमंडल विस्तार होने पर मंत्री बनाए जाने पर भी मंथन हुआ। कोर कमिटी की बैठक में चार नामित एमएलसी के नामों पर भी चर्चा हुई। नामित एमएलसी में कांग्रेस से भाजपा में आए जितिन प्रसाद और डॉ. संजय निषाद के नाम तय हैं। इसके अलावा एक दलित और पार्टी के एक पुराने नेता को भी एमएलसी बनाए जाने पर सहमति बन गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button