उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

गन्ना मूल्य बढ़ेगा, किसानों पर दर्ज मुकदमे होंगे वापस : सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को बड़ी राहत देते हुए बुधवार को कई घोषणाएं की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाया जाएगा। इसके अलावा पराली जलाने को लेकर किसानों पर दर्ज हुए सभी मुकदमें वापस लिए जाएंगे। साथ ही नए गन्ना सत्र से बकाया पिछला पूरा भुगतान तुंरत करा दिया जाएगा। गन्ना मूल्य कितना बढ़ाया जाना है यह मुख्यमंत्री जल्द ही तय कर देंगे।

नए सत्र से पहले होगा पूरा भुगतान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को प्रदेश भर के किसानों के साथ वर्चुअल संवाद कर रहे थे। इस दौरान गन्ना किसानों ने भुगतान और गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने की बात रखी। इस पर मुख्यमंत्री ने तुरंत अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी संबंधित लोगों चीनी संघ, गन्ना किसान यूनियन आदि से बातचीत कर जल्द ही गन्ना मूल्य बढ़ाने का आदेश जारी कर दिया जाए। केंद्र सरकार ने बुधवार को ही गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाकर 290 रुपये प्रति कुंतल कर दिया है। माना जा रहा था कि इसके बाद राज्य सरकार भी गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ा सकती है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि गन्ना पेराई के नए सत्र से पहले पिछला सारा गन्ना भुगतान कर दिया जाएगा।

पराली के मुकदमे वापस होंगे, वापस मिलेजा जुर्माना

दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी किसानों की समस्याएं हल करने के निर्देश दिए। उन्होंने पराली जलाने को लेकर प्रदेश भर में हुए सभी मुकदमों को वापस लेने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे किसानों की सूची बनाई जाए, जिनसे प्रशासन न जुर्माना वसूला है। उनका जुर्मामा भी तुरंत ही वापसी करने की प्रक्रिया शुरू की जाए।

बिजली के बकाए पर नहीं पड़ेगा ब्याज

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी किसान का बिजली कनेक्शन बिल बकाया होने के कारण न काटा जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि किसानों के बकाया बिजली बिल को माफ करने के लिए ब्याज माफी की नई ओटीएस योजना तुरंत लागू की जाए। इस संबंध में बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

20 अक्तूबर से प्रारंभ होंगी पश्चिम की चीनी मिलें

मुख्यमंत्री ने गन्ना एवं चीनी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पश्चिम क्षेत्र की चीनी मिलें 20 अक्तूबर से प्रारंभ होंगी। साथ ही मध्य क्षेत्र की चीनी मिलें 25 अक्तूबर से प्रारंभ होंगी। इसके अलावा पूर्व क्षेत्र की चीनी मिलों का संचालन नवम्बर के पहले सप्ताह में प्रारम्भ हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button