उत्तर प्रदेशकासगंजबड़ी खबर

कासगंज में पुलिस टीम पर हमले का आरोपी एनकाउंटर में ढेर

कासगंज: सिढ़पुरा थाना क्षेत्र स्थित नगला धीमर गांव में मंगलवार को शराब माफिया पर नकेल कसने पहुंची पुलिस को बंधक बनाकर पीटने से एक सिपाही की मौत हो गई और दारोगा बुरी तरह जख्मी हो गए. शराब माफिया के हमले में सिढ़पुरा थाना में तैनात दारोगा गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जबकि सिपाही देवेंद्र की मौत हुई है. आगरा जोन के एडीजी अजय आनंद देर रात घटनास्थल पहुंचे. उन्होंने बताया माफिया पर 11 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं.

हत्यारों ने सिपाही को भाले से गोद कर मारा

नगला धीमर में भारी मात्रा में अवैध रूप से कच्ची शराब का कारोबार किया जाता है. एडीजी अजय आनंद ने बताया दारोगा अशोक कुमार और सिपाही देवेंद्र रूटीन गश्त के दौरान ही शराब माफिया को पकड़ने गए थे. तभी शराब के कारोबार में लिप्त वांछित अपराधी मोती और उसके साथियों ने मिलकर दारोगा अशोक कुमार और सिपाही को बंधक बना लिया और उनकी बर्बरतापूर्वक पिटाई कर शरीर को भाले से गोद दिया, जिससे दारोगा अशोक कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए और सिपाही देवेंद्र की मौत हो गयी. वारदात को अंजाम देने में 6 लोग शामिल थे.

रक्त रंजित हालत में मिला था सिपाही देवेंद्र का शव

पुलिस के अनुसार वारदात के बाद दारोगा अशोक कुमार जंगल की तरफ घायल अवस्था में एक गड्ढे में पड़े मिले, जिन्हें तत्काल इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया था. थोड़ी देर बाद गेहूं के खेत में रक्त रंजित हालत में सिपाही देवेंद्र पड़े मिले, जिनको तत्काल सिढ़पुरा पीएचसी पर लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button