देशबड़ी खबर

अफगानिस्तान में ‘तालिबान सरकार’! राष्ट्रपति भवन में हो रही हैं तैयारियां, भारत समेत विभिन्न देशों के प्रमुखों को भेजेगा न्योता

तालिबान (Taliban) ने कहा है कि अफगानिस्तान में नई सरकार का ऐलान (Taliban New Government in Afghanistan) आने वाले एक या दो दिनों में कर दिया जाएगा. चरमपंथी संगठन ने कहा कि दो सप्ताह तक सभी हितधारकों के साथ चली बातचीत के बाद सभी औपचारिक चीजें पूरी हो चुकी हैं. इससे पहले संगठन ने ऐलान किया था कि अफगानिस्तान से सभी विदेशी सैनिकों की वापसी के बाद युद्धग्रस्त मुल्क में सरकार बनाने के लिए ऐलान किया जाएगा. सोमवार देर रात अफगानिस्तान से अमेरिका की आखिरी सैनिकों की टुकड़ी रवाना हुई और इसी के साथ काबुल एयरपोर्ट (Kabul Airport) पर तालिबान का नियंत्रण हो गया.

बताया गया है कि तालिबान द्वारा नई सरकार को बनाने की रूपरेखा पर काम हो रहा है. इसके लिए काबुल (Kabul) स्थित राष्ट्रपति भवन में भव्य समारोह के लिए तैयारियां जोरो-शोरों पर हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, तालिबान की नई सरकार के गठन के मौके पर भारत समेत कई देशों के प्रमुखों को न्योता भेजा जाने वाला है. कतर में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के डिप्टी प्रमुख शेर अब्बास स्तानिकजई ने इस बात की पुष्टि की कि नई सरकार में सभी अफगान जातीय समूहों का प्रतिनिधित्व होगा. उन्होंने कहा, जिन लोगों ने 2001 में अमेरिकी कब्जे के बाद कैबिनेट में सेवाएं दीं, उन्हें नई कैबिनेट में जगह नहीं दी जाएगी.

नई सरकार में विभिन्न जातीय समूहों का होगा प्रतिनिधित्व

शेर अब्बास कंधार में तालिबानी नेताओं के बीच तीन दिनों तक चली बैठक के खत्म होने के बाद बोल रहे थे. इस बातचीत की अध्यक्षता तालिबान के सुप्रीम लीडर हैबतुल्लाह अखुंनजादा (Haibatullah Akhunzada) ने की और इसमें प्रमुख तालिबानी नेताओं ने हिस्सा लिया. इसमें तालिबान के संस्थापक मुल्ला मोहम्मद उमर के बेटे मुल्ला याकूब और हक्कानी नेटवर्क (Haqqani Network) के प्रमुख सिराजुद्दीन हक्कानी (Sirajuddin Haqqani) शामिल हुए. तालिबान के सूत्रों ने बताया कि नई सरकार में पश्तूनों के अलावा ताजिक, हजारा, उज्बेक और अन्य जातीय समूहों के नए युवा और पढ़े लिखे चेहरों को जगह दी जाएगी.

तालिबानी नेता ने सरकार को मान्यता देने की अपील की

सरकार के रूप की जानकारी दिए बिना स्तानिकजई ने कहा कि नई सरकार में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होने वाली है. उन्होंने इस बात को स्पष्ट नहीं किया कि क्या महिलाओं को मंत्री पद जैसे उच्च स्थानों पर जगह दी जाएगी. तालिबानी नेता ने अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से कहा कि वे नई अफगान सरकार को मान्यता दें, क्योंकि 40 सालों में ऐसा पहली बार हो रहा है कि देश में शांतिपूर्वक सरकार का गठन होगा. स्तानिकजई ने कहा, सभी अफगान एकजुट हैं और हमें उम्मीद है कि अमेरिका, यूरोपियन यूनियन और दुनिया के बाकी के देश हमारी सरकार को मान्यता देंगे. उन्होंने आगे कहा कि दोहा में विदेशों दूतों से लगातार बातचीत की जा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button