बड़ी खबर

अफगानिस्तान में आफत: अमेरिका के ड्रोन हमले की चपेट में आए आम नागरिक, 3 बच्चों की मौत

न्यूज एजेंसी एसोसिएट प्रेस के मुताबिक रविवार को एक ड्रोन हमले में तीन बच्चों की मौत हुई है. वहीं अमेरिका ने कहा है कि उसने ISIS के सुसाइड कार बॉम्बर्स को मार गिराया है. अमेरिका ने कहा कि ये सुसाइड बॉम्बर काबुल एयरपोर्ट पर हमले के लिए जा रहे थे. अधिकारियों के मुताबिक रविवार को काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर चल रहे निकासी अभियान के बीच अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट के कई आत्मघाती हमलावरों को ले जा रहे एक वाहन को उड़ा दिया. गुरुवार को हवाई अड्डे पर इस्लामिक स्टेट के आत्मघाती हमले के बाद से अमेरिकी सैन्य बलों की दूसरी ड्रोन स्ट्राइक की थी. काबुल में हुए ब्लास्ट में 13 अमेरिकी सैनिक और देश छोड़कर जाने की कोशिश में लगे कई अफगानों को जान गंवानी पड़ी.

दो अमेरिकी सैन्य अधिकारियों ने हवाई हमले को सफल बताते हुए कहा कि वाहन के अंदर कई बॉम्बर्स थे. वहीं सैन्य प्रवक्ता और अमेरिकी नौसेना के कैप्टेन बिल अर्बन ने कहा कि यूएस की तरफ से स्ट्राइक डिफेंस में की गई थी. सेना इस बात की जांच कर रही है कि इस हवाई हमले में कोई नागरिक की मौत तो नहीं हुई है, अर्बन ने कहा कि हमले में किसी भी तरह के निर्दोष लोगों के संभावित नुकसान से अमेरिका को गहरा दुख होगा.

अर्बन ने कहा कि हमें विश्वास है कि हमने टारगेट को सफलतापूर्वक मार गिराया है. संकेत मिला था कि वाहन में भरपूर मात्रा में विस्फोटक मौजूद था. अमेरिका अफगानिस्तान से अपनों की निकासी के अंतिम चरण में है. अमेरिकी विदेश विभाग ने लगभग 100 देशों, साथ ही नाटो और यूरोपीय संघ द्वारा हस्ताक्षरित एक बयान में कहा कि उन्हें तालिबान से “आश्वासन” मिला है कि यात्रा दस्तावेजों वाले लोग अभी भी देश छोड़ने में सक्षम होंगे. तालिबान ने कहा है कि वे मंगलवार को अमेरिका की वापसी पूरी होने के बाद सामान्य यात्रा की अनुमति देंगे और वे हवाई अड्डे पर नियंत्रण कर लेंगे.

एयरपोर्ट पर हमले की जताई गई थी आशंका

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शनिवार को हवाई हमले जारी रखने का संकल्प लेते हुए कहा था कि काबुल एयरपोर्ट पर एक और हमले की आशंका थी. विदेश विभाग ने खतरे को “विशिष्ट” और “विश्वसनीय” कहा था. तालिबान ने गुरुवार के हमले के बाद हवाई अड्डे के चारों ओर सुरक्षा बढ़ा दी है, जिससे गेट के बाहर एयरलिफ्ट में शामिल होने की उम्मीद में जमा हुई बड़ी भीड़ को हटा दिया गया है. तालिबान ने सभी अफगानों के लिए माफी का वादा किया है, यहां तक ​​कि उन लोगों के लिए भी जिन्होंने अमेरिका और उसके सहयोगियों के साथ काम किया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button