ताज़ा ख़बरमनोरंजन

KBC 13 : दीपिका पादुकोण ने की डिप्रेशन के बारे में खुलकर बात, कहा- ‘कभी भी रोने लगती थी’

कौन बनेगा करोड़पति 13 के शानदार शुक्रवार में दीपिका पादुकोण और फराह खान हॉट सीट पर बैठीं. गणेश चतुर्थी के खास मौके पर दीपिका और फराह एक नेक काम के लिए आईं थीं. इस शो से जीती हुई राशि का वह एक नेक काम में इस्तेमाल करने वाली हैं. दीपिका अपने मेंटल हेल्थ फाउंडेशन में इसका इस्तेमाल करने वाली हैं. इस दौरान उन्होंने अपने डिप्रेशन के बारे में खुलकर बात की. दीपिका ने बताया कि वह साल 2014 में मुझे डिप्रेशन हुआ था जिसके बाद मैंने एक मेंटल हेल्थ फाउंडेशन सेटअप किया था. जिसमें हम लोगों से मेंटल हेल्थ के बारे में बात करते हैं. दीपिका के इस फाउंडेशन का नाम लिव लव लाफ है.

अमिताभ बच्चन ने दीपिका से पूछा कि आपको कैसे पता चला कि ये डिप्रेशन है. दीपिका ने बताया कि अचानक से मुझे लगा कि पेट में अलग सा फीलिंग होता था. मैं एक खालीपन महसूस करती थी. मुझे ऐसा लगता था कि मुझे काम पर नहीं जाना है, किसी से मिलने का मन नहीं होता था. मैं बाहर नहीं जाना चाहती थी, किसी से मिलना नहीं चाहती थी. मैं कुछ नहीं करना चाहती थी. काफी बार और जीने की इच्छा नहीं होती थी. मुझे ऐसा लगता था कि मेरी जिंदगी में कोई उद्देश्य नहीं है और मैं बार-बार रो पड़ती थी.

हैप्पी न्यू ईयर की शूटिंग के दौरान रो पड़ती थीं

दीपिका ने आगे बताया कि जैसे मैं सीन शूट करती हूं. उस समय मैं हैप्पी न्यू ईयर की शूटिंग कर रही थी और जैसे ही शॉट खत्म होता था तो अंदर मैं वैन में जाकर रोती थी और मुझे खुद पता नहीं था मैं क्यों रो रही हूं या मैं ऐसा फील क्यों कर रही हूं.

दीपिका ने आगे कहा कि मेरे माता-पिता बेंगलुरु में रहते हैं और वह मुंबई आए थे. एक दिन जब वो एयरपोर्ट के लिए निकल रहे थे तो अचानक से फिर से मैं रोने लगी. तब मेरी मम्मी ने नोटिस किया कि मेरे रोने का अंदाज कुछ अलग था. वह नॉर्मल रोना नहीं था. कुछ ब्रेकअप हुआ है या किसी के साथ झगड़ा हुआ है या किसी ने कुछ कहा है मुझे. जिस तरह से मैं रो रही थी वो बहुत अलग था. ऐसा लग रहा था कि मैं मदद के लिए रो रही हूं. फिर मेरी मां ने मुझे कहा कि आप साइकाइट्रिस को फोन करो. जो नॉर्मल डॉक्टर से अलग होते हैं.

डॉक्टर ने समझ आ गई थी बीमारी

दीपिका ने आगे बताया कि जैसे ही मैंने साइकाइट्रिस को फोन किया उन्होंने कहा कि आपको तुरंत अप्वाइंटमेंट लेना है और आपको मुझसे आकर मिलना है क्योंकि उन्हें मेरी आवाज से पता चल गया था कि मैं बीमार हूं. उसके कई महीनों के बाद मैं ठीक हुई लेकिन मेंटल हेल्थ एक ऐसी चीज है जिसके बारे में आप उसे आसानी से नहीं भूल सकते हैं. अब मैंने अपने लाइफ स्टाइल में कई बदलाव किए हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button