मैनपुरी:करहल में रोडवेज़ चालकों की मनमर्जी,सवारियों को उतार देते हैं सुनसान सड़क पर

0
46

डॉ मनोज वर्मा

करहल(मैनपुरी)इटावा से मैनपुरी आने जाने वाली रोडवेज की बसें-करोड़ो की लागत से बने करहल रोडवेज बस स्टैंड पर कभी नहीं आती। जिससे प्रदेश सरकार को ये हठ धर्मी चालक- परिचालक लाखों का नुकसान बिना यात्रियों को लिए करहल बाईपास होकर फर्राटा भर्ती हुई बसें चली जाती हैं।यहाँ तक भीषण सर्दी की रात्रि के समय भी नगर के अन्दर से कोई बस मैनपुरी से इटावा को नही आती जिससे महिला, व्यापारियों व आम नागरिकों को बहुत परेशानी होती है।यह आलम बर्षों से चल रहा,किसी जिलाधिकारी,परिबहन अधिकारी ने अभी तक कोई ध्यान नही दिया काफी सवारियां देहली,औरैया, कानपुर देहात ,महोबा के लिए बस का इंतज़ार करते रहते इनके साथ महिलाएं, बच्चे,बुजुर्ग देर रात्रि बाईपास पर सर्दियों में मजबूरी में बस का इंतज़ार करते लेकिंन बसें खाली लिए चालक फर्राटा भरते चले जाते हैं।सूत्रों से पता चला है कि रात्रि में ये चालक मैनपुरी-इटावा में रेलवे से आने वाले यात्रियों के लिए चौराहे पर भी बसें नही रोकते यात्रियों को बस स्टेंड से नहीं लेते बाइपास से चले जाते,सूत्रों से पता चला है कुछ ऑटो वालो से चालक सुविधा शुल्क ले लेते है।इटावा, राठ से आने वाली बसों के परिचालक सवारियों से अभद्रता करते हैं और कहते हैं कि जहाँ हम उतार रहे वहीं उतरो।करहल नगरवासियों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री,परिवहन मंत्री,मैनपुरी -इटावा जिलाधिकारी व आरएम से माँग की है कि रात्रि में बसों को स्टैंड तक लाया जाए और सुनसान बाइपास मार्ग पर हम यात्रियों को लूटने,इज्ज़त लूटने वालों से बचायें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.