मोदीजी 1 प्रतिशत के प्रधानमंत्री हैं, 99 प्रतिशत के नहीं: अखिलेश

0
144
आगरा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगरा में समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल की संयुक्त जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि नीला-लाल-हरा रंग चुनाव में बढ़-चढ़कर बोल रहा है। पहले चरण में महागठबंधन के पक्ष में हुई वोटों की बारिश से भाजपा घबरा गयी है। लोकतंत्र में भाजपा के लिए अब कोई रास्ता नहीं निकलने वाला है। भाजपा कितना भी ध्यान भटका दे महागठबंधन से बहुत पीछे रहेगी।
श्री यादव ने कहा कि आज देश की परिस्थितियां ऐसी है जिन्होंने दो शपथ ली है वे संविधान के रखवाले बनने का नाटक कर रहे हैं। संविधान बाबा साहब का दिया हुआ है। हजारों साल से जिन्होंने कमजोर वर्ग की आवाज दबायी है वही आज फिर आवाज दबाना चाहते हैं। यही आरएसएस का एजेण्डा है और शपथ भी।
अखिलेश ने कहा कि आगरा में महान कवि सूरदास, तानसेन, षेख सलीम चिश्ती जैसे महापुरूषों की धरती हैं। यह हिन्दू-मुस्लिम की मिली-जुली संस्कृति का प्रतीक है। आगरा पूरी दुनिया में पहचान की मोहताज नहीं है। आगरा मोहब्बत और भाईचारे का पैगाम देता है। एक दल दिलों में खाई पैदा कर रहा है। महागठबंधन नफरत की दीवार गिराने का काम कर रही है।
श्री यादव ने कहा भाजपा डराकर राजनीति कर रही है जबकि महागठबंधन दिलों को जोड़ने की राजनीति कर रहा है। भाजपा सरकार की कुनीतियों से किसान बर्बाद हो गया है। जनता की उम्मीदों का रास्ता बंद हो गया है। नौजवानों को भविष्य नहीं दिख रहा है। आगरा में छोटे-छोटे कारीगर नोटबंदी की वजह से दोबारा रोजगार नहीं शुरू कर पाये।
सरकार ने अभी तक नोटबंदी के आंकड़े नहीं जारी किये हैं। भाजपा नोटबंदी कर सकती है तो जनता के पास वोटबंदी की ताकत है। भाजपा सरकार में देश के 1 प्रतिशत को लाभ पहुंचाया गया है। आंकड़े बताते हैं कि मोदीजी 1 प्रतिशत के प्रधानमंत्री है। 99 प्रतिशत के प्रधानमंत्री नहीं है। अखिलेश ने कहा समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी ने आगरा को राजधानियों से जोड़ा है।
मायावती ने जहां बहुजन समाज पार्टी सरकार में आगरा को यमुना एक्सप्रेस-वे से दिल्ली तक जोड़ा वहीं समाजवादी सरकार में आगरा एक्सप्रेस-वे के माध्यम से लखनऊ तक जोड़ने का कार्य हुआ। भाजपा सरकार ने आगरा के विकास को रोक दिया। समाजवादी सरकार ने आगरा में विश्वस्तरीय सुविधाओं के निर्माण का रास्ता शुरू किया। भाजपा को काम से दुश्मनी है।
संविधान से जनता को जो अधिकार मिले हैं, भाजपा उन्हें भी खत्म करना चाहती है। इसलिए जनता को सावधान रहना होगा। आगरा की संयुक्त रैली में आज पहली बार मायावती के भतीजे आकाश आनन्द ने मंच पर उपस्थिति दर्ज कराई और कहा कि उनकी बुआ मायावती की अपील पर इतनी भारी भीड़ जमा हुई है। उन्होंने अपील की कि गठबंधन के प्रत्याशियों को भारी मतों से विजयी बनाएं। विरोधियों खासकर भाजपाइयों की जमानत जब्त कराएं।
बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्र ने अपने भाषण में चुनाव आयोग और भाजपा की तीखी आलोचना की और मायावती पर प्रचार में लगाई गई रोक को असंवैधानिक बताया। उन्होंने मतदाताओं से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बाहर का रास्ता दिखाने की अपील की।
सतीश मिश्र ने कहा कि भाजपा सरकार पूरे पांच साल के अपने कार्यकाल में हर मामले में विफल रही है। उसके वादे पूरे नहीं हुए। जनता उन्हें जवाब देगी। पुलवामा कांड में खुफिया तंत्र की विफलता पर माफी मांगने के बजाय उसको भुनाने का काम हुआ है। धार्मिक भावनाएं भड़काकर भाजपा नेता लोगों का ध्यान बंटा रहे हैं। ये धोखा देते आए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपनी जनसभाओं में अली बजरंगबली के नाम पर बांटने की कोशिश की।
बहन मायावती  जी को बताना पड़ा कि इसकी आड़ में चुनाव जीतने की साजिश हैं। उन्होंने तो इसके साथ सर्वसमाज से अपील की थी कि वे लोग धर्म के आधार पर वोट न डालें। श्री मिश्र ने कहा कि गठबंधन के पक्ष में लाखों की भीड़ देखकर भाजपाई इतना भयभीत हुए है कि चुनाव आयोग का सहारा लेकर मायावतीजी को चुनाव प्रचार से पाबंद कराने का काम किया यह पूर्णतया असंवैधानिक है। चुनाव आयोग दबाव में काम कर रहा है उसकी दलित विरोधी मानसिकता है। योगीजी और मोदी जी के बयानों पर उसका ध्यान क्यों नहीं जाता है?
राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि जनता में जो उत्साह, जोश और उमंग है उससे भाजपा का सफाया होना तय है। पहले चरण में हुए मतदान से ही अंदाजा हो गया है कि भाजपा का षडयंत्र काम आने वाला नहीं है। जनता ने मान लिया है कि भाजपा के बुरे दिन शुरू हो गए हैं और उसके अच्छे दिन आने वाले है। मोदीजी ने सभी को परेशान किया है। नोटबंदी और जीएसटी से व्यापार चैपट हुआ है। उन्होंने कहा कि भाजपा की नफरत की राजनीति का जवाब जनता भाजपा को चुनावों में पराजय का करारा सबक देकर करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.