Covid-19:अपनी इस प्रमुख इबादत से भी वंचित रह सकते हैं देश के मुसलमान

0

कोरोना महामारी के चलते देश व दुनिया के सभी मुस्लिमों के लिए रमज़ान ऐसा पवित्र महीना व ईद के अलावा भी बहुत से त्योहार एहतिहात बरतते गुजरे।वहीं अब समय पवित्र हज यात्रा का भी आने वाला है जिस हेतु हर साल अपने देश से लाखों मुस्लिम हज यात्रा के लिए तैयारी करते हैं।पर इस साल भारत से हज पर लोगों के जाने की संभावना बहुत कम नजर आ रही है।वजह यह है कि कोरोना के चलते अभी तक सऊदी अरब की सरकार ने हज यात्रा को लेकर हज कमेटी ऑफ इंडिया को कोई साफ जानकारी नहीं दी है।हज कमेटी ने तय किया है कि जो लोग हज यात्रा पर जाने के इच्छुक नहीं हैं, वह अपनी यात्रा केंसिल कर सकते हैं।

हज कमेटी ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मसूद अहमद खान बताया कि केंद्रीय हज समिति ने यह फैसला हज यात्रियों की सुविधा को लिया है। खान ने कहा कि कुछ सप्ताह ही तैयारी के लिए बचे हैं और अब तक हज यात्रा के बारे में सऊदी अरब में अधिकारियों से कोई संवाद नहीं हुआ है। उधर, भारतीय हज कमेटी ने एक परिपत्र के माध्यम से हज-2020 पर जाने के लिए चयनित लोगों से कहा है कि हज पर नहीं जाने की इच्छा रखने वाले लोग अपने पैसे वापस ले सकते हैं।आपको बता दें हज मुस्लिमों की प्रमुख फ़र्ज़ पाँच इबादतों में खास इबादत है जिसमें मुस्लिम पवित्र शहर मक्का व मदीना जाकर अरकान अदा करते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.